लड़कियों के बारे में 10 दिलचस्प मनोवैज्ञानिक तथ्ये

लड़कियों के बारे में 10 दिलचस्प मनोवैज्ञानिक तथ्ये | Love psychology facts in Hindi

Love psychology facts in Hindi – दोस्तों, कई लड़कों के लिए फीमेल को समझना किसी पहाड़ तोड़ने जैसा होता है, भले ही वो लड़का कोई जीनियस ही क्यों ना हो लेकिन जब बात उस लड़की की आती है जिससे वो प्यार करता है। तब उस लड़की की थिंकिंग और फीलिंग का उसे कोई अंदाजा ही नहीं होता।

आपने बहुत लोगों के मुँह से ये बात तो सुनी होगी। ये किसी लड़की को समझने के बाद इस दुनिया में कुछ और समझने लायक ही नहीं बचता। हालांकि महिलाओं को समझना वाकई में बहुत मुश्किल काम तो है लेकिन ये इतना भी मुश्किल नहीं है जितना आप समझते हैं।

आज में आपको इस आर्टिकल में फीमेल लव साइकोलॉजी (Psychology facts in hindi) से जुड़े 10 Psychological Facts बताऊँगा जिसे जानने के बाद फीमेल को समझना आपके लिए थोड़ा आसान काम हो जाएगा।

इस आर्टिकल में आप को इन सभी सवालो से जुड़े जवाब मिल जायँगे : girlish facts in hindi, ladkiyon ke bare me jankari, लड़कियों के बारे में मनोविज्ञान, महिलाओ से जुड़े रोचक तथ्ये, psychology facts about love in hindi, Psychological facts about love and attrection in hindi,

तो स्वागत है दोस्तों आपका हमारी वेबसाइट 1AboutPsychology.com पे जहाँ पे आप फैक्ट सिर्फ जानते या समझते नहीं बल्कि उसे फील करते है।

लड़कियों की ज़िन्दगी जुड़े कुछ मजेदार Psychological facts about love in Hindi |

Women look for assurance in their partner.

दोस्तों जब कोई फीमेल आपसे डीप्ली लव करती है तो उसे इस बात की फिक्र बहुत होती है की कही आपकी जिंदगी में कोई और लड़की तो नहीं है? इन्फैक्ट वो अपने इस डाउट को खत्म करने के लिए आपके सर्कल में मौजूद सभी फीमेल्स के बारे में सही से जानने की कोशिश करेगी।

वो आपके फ़ोन, कॉन्टैक्ट लिस्ट या सोशल मीडिया को बारीकी से चेक करेगी और assure होने पे काफी अच्छा फील करेगी। इसलिए अगर कोई फीमेल आपके फ़ोन की तलाशी लेती है और आपके फीमेल फ्रेंड्स के बारे में जानने की कोशिश करती है तो ये एक अच्छा इशारा होगा की वो आपको दिल से चाहती है।

दोस्तों एक मेल होने के नाते आप इस फीमेल साइकोलॉजी को समझिये और उस फीमेल के डाउट को खत्म करने के लिए आप उसका साथ दीजिये क्योंकि ऐसा करने से आप उस लड़की का True love बन जाएंगे।

She constantly missing you

दोस्तों अगर आपसे कोई महिला वाकई में प्यार करती है तो फीमेल साइकोलॉजी के मुताबिक वो पूरे दिन आप के बारे में सोचती रहेंगी। अगर वो मजाक में भी कहे की वो आपको मिस कर रही थी।

तो उसकी इस बात को सीरियसली जरूर लीजिये और उससे ये भी एहसास कराये की आप भी उसे उतना ही मिस कर रहे थे।

She don’t share her feelings easily

दोस्तों फीमेल्स की इस लव साइकोलॉजी के कारण मेल अक्सर डाउट में आ जाते है। लड़कों के लिए ये समझना बड़ा मुश्किल काम हो जाता है। ये कब उस लड़की का ना हाँ होता है और कब उसका ना वाकई में नहीं होता है।

अब ये तो ऊपर वाला ही जाने की आखिर क्यों फीमेल अक्सर अपने मन की बात नहीं बोलती। आखिर क्यों जब वो ठीक नहीं होती फिर भी बोल देती है की मैं ठीक हूँ। और बिल्कुल यही हाल तब होता है जब उन्हें किसी से प्यार होता है।

ये जल्दी अपना इमोशन ऑफ फीलिंग दूसरों से शेयर नहीं करती। ये चाहते हैं कि सामने वाला इनकी फीलिंग जिनकी आँखों में देख के समझ लें ना की इनकी शब्दों को सुन के समझे।

इन्फैक्ट जो इनके साइलेंस के पीछे छुपे पेन और इमोशन को समझ लेता है, वह मेल इनके लिए real lover होता है, इसलिए हर मेल को फीमेल्स की साइकोलॉजी को जरूर समझना चाहिए। आपका अटेंशन सिर्फ उनकी बातों पे ही नहीं बल्कि उनकी Body language, facial expression, Eyes, और movement पे भी होना चाहिए। ताकि आप ये समझ सकें कि वो फीमेल वाकई में क्या कहना चाहती है।

She behave like a baby

दोस्तों दुनिया की लगभग हर फीमेल्स अपने पार्टनर की कंपनी को बहुत एन्जॉय करती है। जब वो अपने True Love के साथ होती है तो उसके अंदर का बेबी बहार आ जाता है। आपके सामने उसका व्यव्हार एक बच्चे की तरह हो जाता है। यहाँ तक कि अगर वो काफी डाउन और डिप्रेस्ड है तो भी वो आपको देखते ही काफी खुश हो जाएगी।

She pay attention to the

दोस्तों मेल जहाँ छोटी छोटी चीजों को इग्नोर कर देते है वंही फीमेल्स का ध्यान बारीकी से बारीकी चीजों पे भी रहता है। जैसे की हेयर कटिंग, ड्रेस स्टाइल, लिपस्टिक शेड या उनका लुक। अगर आपकी कोई गर्लफ्रेंड होगी तो उसमें आप से कभी ना कभी ये सवाल जरूर पूछा होगा की आज वो कैसी लग रही है?

या फिर क्या वो आज पहले से डिफरेंट लग रही है? इन्फैक्ट फीमेल्स की Love Psychology तो यही कहती है की अगर आप उस फीमेल के इन छोटे छोटे बदलाव को Observe नहीं कर रहे हैं तो इसका मतलब आप उसी मेल में इंटरेस्टेड नहीं है।

और ये सोच के फीमेल काफी दुखी हो जाती है इसलिए दोस्तों आप उस फीमेल को प्रॉपर कॉम्पलिमेंट देते रहिये, इससे वह महिला आपसे काफी खु़श रहेंगी।

She like your Attention

दोस्तों फीमेल को अपने पार्टनर का अटेन्शन पाना बहुत पसंद होता है। अगर आप उसे प्रॉपर अटेन्शन देते हैं और उसकी केयर करते हैं तो वो आपको और ज्यादा पसंद करने लग जाएगी। कुछ स्टडी में यह देखा गया है कि जिन फीमेल्स के पार्टनर उनसे अक्सर अपने प्यार का इजहार करते रहते हैं, उन फीमेल्स का सेल्फ एस्टीम बढ़ जाता है और इससे उनको काफी खुशी महसूस होती है।

Girls like confidence & loyalty

दोस्तों एक मेल की साइकोलॉजी शुरू से ही फीमेल्स को प्रोटेक्ट करने की रही है और फीमेल की साइकोलॉजी मेल का केयर करने को रही है। इसलिए फीमेल्स अक्सर उन मेल को पसंद करती हैं जिनके अंदर कॉन्फिडेन्स होता है ताकि कोई डेंजर सिचुएशन आने पे वो मेल उनकी प्रोटेक्शन कर सके।

फीमेल्स, मेल्स की कंपैरिजन में बहुत काम झूठ बोलती है, इसलिए उन्हें ऐसे मेल पसंद आते हैं जो उनके प्रति ईमानदार रहें। अगर किसी मेल का सेंस ऑफ ह्यूमर ज्यादा होता है तो फीमेल ऐसे मेल से easily इम्प्रेस हो जाती है। क्योंकि ऐसे मेल इनके चेहरों पर आसानी से मुस्कुराहट ला पाते हैं।

Fighting

दोस्तों अगर कोई लड़की वाकई में आपको चाहती है तो वो अक्सर आप से लड़ाई या बहस करने को तैयार हो जाएगी। साइकोलॉजी के मुताबिक, अगर किसी रिलेशनशिप में फाइटिंग बिल्कुल भी नहीं होती तो इसका मतलब यह है कि दोनों पार्टनर के बीच अब काफी दूरियां आ गयी है।

High Pitch Voice

दोस्तों जब किसी फीमेल को किसी लड़के से प्यार होता है तो उस से बात करते वक्त उनकी Voice की पिच अपने आप बढ़ जाती है। यानी कि इनका आवाज पहले से ज्यादा हो जाता है। जबकि हमारे दूसरी तरफ मेल्स की वौ स्पीच पहले से लो हो जाती है।

Make her prode

दोस्तों एक फीमेल जल्दी किसी से love नहीं करती, लेकिन जब वो किसी को चाहती है तो बहुत गहराई से चाहती है। जब वो अपने पार्टनर के साथ टाइम स्पेंड करना चाहती है तो सिचुएशन चाहे जैसे भी हों, ये अपने पार्टनर को टाइम जरूर देती है।

फीमेल को ऐसा मेल पार्टनर चाहिए होता है जो इनका साथ ईमानदारी से निभा सके। ये तब उस मेल को और ज्यादा चाहने लगती है जब कोई मेल इन्हें अपना के प्राउड फील करता है। बाकी लड़कियों के सामने कॉन्फिडेंस के साथ इन्हें अपना कहता है।

दोस्तों, अब आपने फीमेल साइकोलॉजी को काफी हद तक समझ लिया होगा। अगर आप किसी फीमेल को समझना चाह रहे हैं और नहीं समझ पा रहे हैं तो इन 10 बातों को दोबारा समझने की कोशिश जरूर करिएगा। तो दोस्तों फीमेल साइकोलॉजी के बारे में आपकी क्या राय है? प्लीज़ कमेंट बॉक्स में जरूर बताएगा। बहुत बहुत धन्यवाद जय हिंद।


FAQS!

साइकोलॉजी प्यार के बारे में क्या कहता है?

मनोवैज्ञानिकों ने प्रेम की प्रकृति का अध्ययन किया है और प्रेम कैसे विकसित होता है और कैसे बना रहता है, इसके बारे में कई अलग-अलग सिद्धांत विकसित किए हैं। कुछ सिद्धांतों का सुझाव है कि प्रेम एक भावना है जो समय के साथ अनुभव और दूसरों के साथ स्नेहपूर्ण बातचीत के माध्यम से विकसित होता है, जबकि अन्य तर्क देते हैं कि प्रेम सामाजिक, सांस्कृतिक और जैविक कारकों का अधिक जटिल मिश्रण है।

हम किसी के बारे में क्यों सोचते है?

एक व्यक्ति के किसी और के बारे में सोचने के कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं। ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि वह व्यक्ति उनके लिए महत्वपूर्ण है और वे जुड़े रहना चाहते हैं, और वह व्यक्ति उनकी वर्तमान स्थिति के लिए प्रासंगिक है, या फिर वह व्यक्ति किसी कारण से उनके दिमाग में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *